Pages

Subscribe:

Ads 468x60px

test ad

अपनी भाषा हिन्‍दी है।

- डॉ0 मधुसूदन साहा - 

अपनी भाषा हिन्‍दी है
हर माथे की बिन्‍दी है।

जरा बोलकर देखो तु
कितनी सरस सुहानी है,
मां की लोरी-सी कोमल
रोचक नई कहानी है,

राधा के पग की पायल,
कान्‍हा की कालिन्‍दी है।

इसे राष्‍ट्र ने मान दिया
संविधान में अपनाकर,
अब दायित्‍व निभाना है
इसका पूरा सपना कर,

फिर निकालता रहता क्‍यों,
यूं 'हिन्‍दी की चिन्‍दी' है।

इसे सीखना चाहो तो
झट जुबान पर चढ़ जाती,
बस थोड़ी-सी चाहत से
दादी सब कुछ पढ़ पाती,

स्‍वेच्‍छा से सब सीख रहे
नहीं कहीं पाबंदी है।

4 टिप्पणियाँ:

Kuldeep Thakur said...

सुंदर रचना...
आप की ये रचना आने वाले शनीवार यानी 14 सितंबर 2013 को ब्लौग प्रसारण पर लिंक की जा रही है...आप भी इस प्रसारण में सादर आमंत्रित है... आप इस प्रसारण में शामिल अन्य रचनाओं पर भी अपनी दृष्टि डालें...इस संदर्भ में आप के सुझावों का स्वागत है...

उजाले उनकी यादों के पर आना... इस ब्लौग पर आप हर रोज 2 रचनाएं पढेंगे... आप भी इस ब्लौग का अनुसरण करना।

आप सब की कविताएं कविता मंच पर आमंत्रित है।
हम आज भूल रहे हैं अपनी संस्कृति सभ्यता व अपना गौरवमयी इतिहास आप ही लिखिये हमारा अतीत के माध्यम से। ध्यान रहे रचना में किसी धर्म पर कटाक्ष नही होना चाहिये।
इस के लिये आप को मात्रkuldeepsingpinku@gmail.com पर मिल भेजकर निमंत्रण लिंक प्राप्त करना है।



मन का मंथन [मेरे विचारों का दर्पण]


ब्लॉग - चिठ्ठा said...

आपके ब्लॉग को ब्लॉग एग्रीगेटर "ब्लॉग - चिठ्ठा" में शामिल कर लिया गया है। सादर …. आभार।।

नई चिठ्ठी : हिंदी ब्लॉग संकलक (एग्रीगेटर)

कृपया "ब्लॉग - चिठ्ठा" के फेसबुक पेज को भी लाइक करें :- ब्लॉग - चिठ्ठा

ब्लॉग - चिठ्ठा said...

आपके ब्लॉग को ब्लॉग एग्रीगेटर "ब्लॉग - चिठ्ठा" में शामिल कर लिया गया है। सादर …. आभार।।

नई चिठ्ठी : हिंदी ब्लॉग संकलक (एग्रीगेटर)

कृपया "ब्लॉग - चिठ्ठा" के फेसबुक पेज को भी लाइक करें :- ब्लॉग - चिठ्ठा

ब्लॉग - चिठ्ठा said...

आपके ब्लॉग को ब्लॉग एग्रीगेटर "ब्लॉग - चिठ्ठा" में शामिल कर लिया गया है। सादर …. आभार।।

नई चिठ्ठी : हिंदी ब्लॉग संकलक (एग्रीगेटर)

कृपया "ब्लॉग - चिठ्ठा" के फेसबुक पेज को भी लाइक करें :- ब्लॉग - चिठ्ठा

इस माह सर्वाधिक पढ़ी गयी कविताएँ